Special gajar ka halwa/गाजर का हलवा 2023

आज हम जानेंगे gajar ka halwa/गाजर का हलवा बनाने कि रेसिपी जो बहुत ही आसान है जिसके सहायता से आप आसानी से घर पर ही स्वादिष्ट गाजर का हलवा बना सकते है जो सभी को बेहद स्वादिष्ट लगेगा वैसे गाजर का हलवा सर्दियों में बहुत बनता और खाया जाता है

क्योंकि सर्दियों अक्सर लोग मीठा खाना पसन्द करते है और गाजर के हलवे में घी की मात्रा होती है जिसके कारण ये सर्दियों में फायदेमंद होता है इसलिए ये सर्दियों में अक्सर बनाया जाता है ।इसे बहुत जगहों पर गाजर का हलवा या गाजर का पाक (गाजरपाक) भी कहा जाता है यह एक तरह की गाजर की मिठाई है जो भारतीय व्यंजनों में से एक है और इसका स्वाद लाजवाब होता है।

इसमें दूध ,गाजर व सूखे मेवों की मिश्रित सुगंध होती है और ये सभी को पसंद आएगा कि कैसे गर्म गर्म हलवा मुंह में डालते ही पिघल जाता है और आपकी स्वाद कलिकाओं को संतुष्ट करने के लिए विभिन्न स्वादों का विस्फोट करता है गाजर के हलवे का लाजवाब स्वाद इसे भारतीय लोकप्रिय मिठाइयों में से एक बनाता है।https://ekaro.in/enkr20230927s35557660

तो आईए हम स्वादिष्ट और पौष्टिक गाजर का हलवा बनाने कि रेसिपी सीखे जो बडी ही आसानी से घर पर ही हलवाई जैसा बना सकते है ।

  • gajar ka halwa/गाजर का हलवा बनाने में लगभग 30 से 35 मिनट लगते है ।
  • जिसमें से 10मिनट हलवा बनाने से पूर्व तैयारी के लिए और 20 से 25 मिनट उसे अच्छे से पकाने में लगता है।

gajar ka halwa/गाजर का हलवा बनाने कि रेसिपी में उपयोगी सामग्री

  • गाजर = एक किलोग्राम
  • मलाई वाला दूध = 2 गिलास (लगभग 700 ग्राम)
  • घी = 100 ग्राम
  • मेवे = अपनी इच्छा अनुसार
  • चीनी = 150 ग्राम
  • बड़ी या काली इलाइची 2 से 3

gajar ka halwa/गाजर का हलवा बनाने कि रेसिपी-

गाजर का हलवा बनाने कि रेसिपी :
गाजर का हलवा बनाने के लिए सबसे पहले हम गाजर लेंगे गाजर ताजा होनी चाहिए और इनको अच्छे से धोकर ऊपर नीचे से काटकर थोड़ा छिल कर कद्दू कस से थोडा मोटा मोटा घीस ले घिसने के बाद गाजर लगभग 800 ग्राम बचेगी ।

अब गाजर पकाने के लिए तैयार है।अब एक कड़ाई लीजिए फिर इसमें आधा घी (50 ग्राम) डालकर धीमी आंच पर गर्म करें और इसमें थोड़े बदाम और काजू को डालकर थोड़ा सा भून लें जिससे कि इनका स्वाद अच्छा आएगा इनको कड़ाई से एक प्लेट में निकाल दे और फिर उस घी में गाजर डालकर 2 से 3 मिनट तक पकाएं दो तीन मिनट भुनने के बाद ये थोड़ी सिकुड़ जाती है और इसका रंग बदलने लगता है ।

अब इसमें मलाई वाला दूध और इलाइची के बीज निकालकर डालकर अच्छी तरह कड़छी चलाकर इसे 18 से 20 मिनट तक पकाएं बीच बीच में इसमें कड़छी चलाते रहे 18 से 20मिनट बाद गाजर और दुध आपस में आकार जुड़ जाएंगे अच्छे से मिलाते हुए इसमें बचा हुआ घी डाल दें आप इसमें खोया भी डाल सकते है और फिर इसमें चीनी डालकर एक से दो मिनट तक ही पकाएं ।

इतने में चीनी सारी मिल जाएगी ज्यादा नहीं पकाना है नहीं तो ये थोड़ चिपचिपा हो सकता है फिर इसमें भुने हुए व सारे मेवे डालकर थोड़ा और पकाए और अब आपका गाजर का हलवा एक दम तैयार है जिसे देखते ही मुंह में पानी आने लगेगा इसे ज्यादा सर्दी में गर्म गर्म खाए तो बहुत स्वादिष्ट लगेगा या आप इसे ठंडा होने के बाद भी खा सकते है।https://foodwada.com/मैगी/नाश्ता/

गाजर का हलवा खाने के फायदे और नुकसान

करता है गाजर में फाइबर और बहुत से पौष्टिक तत्व की मात्रा भरपूर होती है जिसके कारण ये मोटापे को भी कम करने में सहायक होता है और इसमें मिले हुए सभी सामग्री हमारे शरीर की रोग प्रतिरोध समाता को बढ़ाता है इसलिए इसे खाना सेहत के लिए अच्छा होता है।https://foodwada.com/

वैसे तो गाजर का हलवा खाने के कोई नुकसान नहीं होते है पर ब्रेस्टफिड कराने वाली महिलाओं को अधिक गाजर नहीं खाना चाहिए दरसल इससे दुध का स्वाद खराब हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »

Discover more from FOODWADA

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading