1 amazing Guava mojito mocktail /ग्वावा मोजितो मॉकटेल बनाने की रेसिपी:

1 amazing Guava mojito mocktail /ग्वावा मोजितो मॉकटेल बनाने की रेसिपी:

Guava mojito mocktail /ग्वावा मोजितो मॉकटेल एक भारतीय पार्टी पेय पदार्थ है जो हर खाने वाले को खुश करने के लिए निश्चित है।
अमरूद एक ऐसा फल है जो कीमत में कम होता है जिसे आम आदमी भी आसनी से खरीद सकता है और यह हर मौसम में मिल जाता है । जिस कारण इसे गरीबों के सेब के रूप में जाना जाता है।भारत में यह बहुत जगह पर पाया जाता है लेकिन अमरुद मध्य अमेरिका के ट्रॉपिकल क्षेत्रों का फल है और एशिया में सबसे लोकप्रिय है। इसका वैज्ञानिक नाम पीसिडियम ग्वाजा है और यह मायरटेसी परिवार से संबंधित है।

Guava mojito mocktail
Guava mojito mocktail


ग्वावा मोजितो एक पारंपरिक क्यूबा कोकटेल है जो नींबू के रस, सोडा और पुदीना जैसे पेपी सामग्री से बना है । यह वर्जिन ग्वावा मोजितो एक प्रकार है जो स्प्राइट और नींबू के रस के साथ अमरूद के टुकड़ों को जोड़ता है ।ग्वावा मोजितो मॉकटेल बनाने के लिए, एक मिक्सर में अमरूद और ३/४ कप मिलाएं और चिकना होने तक पीस लें।


ग्वावा मोजितो मॉकटेल में एक आकर्षक बनावट और एक ललचाने वाला झुनझुनी होता है, जो कि काले नमक के अतिरिक्त होता है । यह एक पेय में मीठा ,टंग और नमक का एक स्फूर्ति दायक संयोजन है ।
अमरूद को आमतौर पर इसके वानस्पतिक नाम, पीसिडियम ग्जावा से जाना जाता है और कभी-कभी कुछ क्षेत्रों में इसे “अमरूड” भी कहा जाता है।

Guava mojito mocktail
Guava mojito mocktail


भारत दुनिया में अमरुद का सबसे बड़ा उत्पादक देश है जो 25M मीट्रिक टन का उत्पादन करता है, जो दुनिया के अमरूद उत्पादन में 45% का योगदान देता है। दुसरे और तीसरे बड़े उत्पादक इंडोनेशिया और चीन है, जो उत्पादन का 7% और 5% दान करते हैं।

जब भी आपसे आपके मन पसंदीदा फल का नाम पूछा जाता है तो आप आम या सेब का नाम ही कहेंगे क्योंकि लगभग लोगों को अमरूद बहुत मामूली फल कहा व समझा जाता है । क्योकि जब इसको खाया जाता है तो इसके बीज दांत में फंस जाते हैं। जो खाने में अच्छा नहीं लगते है , तो अब आप चिंता न‌ करें, क्योंकि हमारे पास इसका उपाय है । जो अमरूद को खाने का सबसे आसान व स्वादिष्ट तरीका है। अमरूद का जूस ।


विभिन्न फलों और फलों के जूस में बहुत से पोषक तत्व होते हैं। रोजाना इसका सेवन किया जाना चाहिए। अमरूद का जूस भोजन को स्वादिष्ट बना देता है क्योंकि अन्य फलों की तुलना में इसमें पानी की मात्रा अधिक होती है और वसा की मात्रा कम होती है। इसमें आहार फाइबर, विटामिन और आवश्यक खनिज होते हैं।
अमरूद के जूस में बहुत से तत्व होते हैं जैसे फ्लेवोनॉयड्स क्वेरसेटीन व कैटेचिन आदि।

Guava mojito mocktail आवश्यक सामग्री:

  • 3 कप अमरूद के क्यूब्स।
  • 1/2 कप पिसी हुई चीनी।
  • 1 टेबल स्पून नींबू का रस ।
  • 3/4टी – स्पून नमक
  • ½ टी- स्पून काला नमक ।
  • 6 कप स्प्राइट

Guava mojito mocktail recipe:

  • ग्वावा मोजितो बनाने के लिए, एक मिक्सर में अमरूद और ¾ कप पानी मिलाएं और चिकना होने तक पीस लें।
  • मिश्रण को एक गहरी कटोरी में डालें, चीनी, नींबू का रस , नमक और काला नमक डालें और अच्छी तरह से मिश्रित करें।
  • जब इसे परोसे इससे ठीक पहले आप एक लंबे से ग्लास में बने अमरूद का मिश्रण 2 टेबल स्पून डालें और फिर उस पर आधा कप स्प्राइट को डालें और फिर अच्छी तरह से मिला लें।
  • अब ग्वावा मोजितो मॉकटेल को तुरंत परोसें।

Guava mojito mocktail का मिश्रण बनाने के लिए:

अमरूद पका होने के साथ बनावट में मलाईदार, नरम और पुरी तरह से खाने योग्य होना चाहिए । मांस सफेद या गुलाबी हो सकता है। सुगंध मीठा और मस्त हो सडा़ हुआ ना हो। अमरूद की एक अच्छी किस्म में ,बीज बहुत होते हैं लेकिन छोटे और खाने लायक होते हैं। ऐसे अमरूद को लें जो की थोड़े दृढ़ और बिना किसी दाग व नरम धब्बों के हो।

Guava mojito mocktail
Guava mojito mocktail


अमरूद को धोएं और किचन टेबल की मदद से सुखाए। अमरुद को एक एक करके चोपिंग बोर्ड पर रखे और उन्हें तेज चाकू का प्रयोग करके मध्यम आकार के क्युब्स में काट लें। हमें ३ कप अमरूद की आवश्यकता है।
अमरूद के क्युब्स को मिक्सर जार में डालें।


३/४ कप पानी डालें।तब तक ब्लेड करें जब तक ग्वावा मोजितो मॉकटेल का मिश्रण मुलायम न‌ हो जाएं।
एक गहरे कटोरे में मिश्रण को डालें ।
१/२ कप पिसी हुई चीनी डालें।
१ टेबल स्पून नींबू का रस डालें।
३/४ टी स्पून नमक डालें।
१/२ टी स्पून काला नमक डालें।
अच्छी तरह से मिलाएं। एक तरफ रख दें।

इस अमरूद मिश्रण को एक एयर- टाइट कंटेनर में स्टोर करे। यह एक सप्ताह तक ताजा रहता है।

Guava mojito mocktail में अमरूद के फायदे और नुकसान:
Guava mojito mocktail /अमरूद के साइड इफेक्ट:


अमरूद का सेवन पाचन को दुरुस्त करता हैं लेकिन जिन लोगों को डायरिया है,दस्त और उल्टी की परेशानी हैं वो इसका सेवन करने से परहेज़ करें । अमरूद के सेवन दस्त -उलटी और गैस की परेशानी को बढ़ाता है।
अमरूद विटामिन, प्रोटीन, खनिज और आहार फाइबर (पेक्टिन) का एक अच्छा स्रोत है , जो पेट से भोजन और ठोस अपशिष्ट की निकास में सहायक है । इसके अलावा अमरूद के जूस में कोलेस्ट्रॉल और कार्बोहाइड्रेट नहीं पाया जाता हैं। इसलिए , यदि आप अन्य फलों के जूस के बजाय कच्चे अमरूद का जूस पीते हैं तो यह काफी कम शुगर प्रदान कर सकता है।https://foodwada.com/


इम्युनिटी होती है बूस्ट – अमरूद हमारे शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्युनिटी बढ़ाने में मदद करता है। हेल्थ लाइन की रिपोर्ट के मुताबिक अमरूद विटामिन- सी का एक अच्छा स्रोत है , इसमें संतरे की अपेक्षा दो गुनी मात्रा में विटामिन -सी होता है, विटामिन- सी आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता हैं ।
त्वचा रोग वाले लोग – अमरूद के फल और पतियों में मौजूद रसायन कुछ मामलों में त्वचा में जलन पैदा कर सकता है यह ज़्यादातर उन लोगों में होता है , जिन्हें पहले से ही एक्जिमा जैसी त्वचा की कोई समस्या है , इसलिए त्वचा संबंधी विकार वाले लोगों को सावधान रहना चाहिए या अमरूद खाने से बचना चाहिए क्योंकि इससे उनकी स्थिति और खराब हो जाएगी।


अमरूद की पत्ति अर्क वसा के दहन को बढ़ावा देता है ,एडिपोनेक्टिन,रिसपेटर जीन अभिव्यक्ति को बढ़ाकर यकृत में वसा के संचय को रोकता है और इंसुलिन प्रतिरोध में सुधार करता है।
यह एटिंफगल गतिविधि कर सकता है।
यह जीवाणु प्रतिरोध गतिविधि कर सकता है।
बुखार कम कर सकता है।
यह दर्द को दूर भगाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »

Discover more from FOODWADA

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading