सोया चाप रेसिपी

सोया चाप रेसिपी कैसे बनाएं indian food recipe

सोया चाप सुन परत में सबसे लोकप्रिय स्ट्रीट फूड में से एक है इसका उपयोग करी बनाने में भी किया जाता है यह सोया चैक्स का एक छोटा सा कबाड़ा हुआ संस्करण है।
आविष्कार:
मुगल, जो अपनी भव्यता और समृद्ध स्वादों के प्रति प्रेम के लिए जाने जाते हैं, नए भारतीय व्यंजनों में विभिन्न प्रकार के स्वादिष्ट व्यंजन पेश किया ऐसा माना जाता है कि इसका जन्म मुगलों की शाही व्यंजनों की सार को बनाए रखते हुए उनकी शाकाहारी प्रजा की आहार संबंधी प्राथमिकताओं को पूरा करने की इच्छा से हुआ था।

यदि आप मेरी तरह सोया चाप प्रेमी है तो यह करी रेसिपी आजमाने लायक है मैं एक स्वादिष्ट पंजाबी स्टाइल मसाला सोया चाप रेसिपी सांझा कर रही हूं जो उत्तर भारत का परम शाकाहारी आरामदायक भोजन है।

यह हमेशा ग्लूटन- मुक्त नहीं होता है क्योंकि कई निर्माता आटा बांधने के लिए मैदा का उपयोग करते हैं इसलिए यदि आप ग्लूटेन मुक्त सोया चाप चाहते हैं ।

पूरे उत्तर भारत में विभिन्न शाकाहारी व्यंजन बनाने के लिए सोया स्टिक का रचनात्मक रूप से उपयोग किया जाता है उनकी लोकप्रियता का कारण चिकन जैसी बनावट और करी के स्वाद को सूखने की क्षमता है इसके अलावा सोया चाप शाकाहारी मेनू में एक बेहतरीन विविधता जोड़ता हैं।

सोया चाप करी एक मुख्य व्यंजन है इसका स्वाद लच्छा पराठा ,तंदूरी रोटी या नान के साथ सबसे अच्छा लगता है भारतीय फ्लैटब्रेड इस शाकाहारी करी के मसालेदार स्वाद को मिटाने के लिए बिल्कुल उपयुक्त हैं।संपूर्ण भारतीय भोजन बनाने के लिए आप सोया चाप करी को नान, बूंदी रायता और कचुंबर सलाद के साथ परोस सकते हैं ।

सोया चाप रेसिपी की सामग्री:

० मैरिनेट के लिए सामग्री:

  • 4 सोया चाप
  • एक चम्मच अदरक लहसुन का पेस्ट 3.एक चम्मच लाल मिर्च पाउडर
  • ½ चम्मच हल्दी पाउडर
  • 1½ चम्मच नमक या स्वादानुसार
  • दो बड़े चम्मच दही

० टमाटर पेस्ट के लिए सामग्री:

  • एक कप टमाटर कटा हुआ
  • एक बड़ा चम्मच लहसुन की कलियां 3.एक बड़ा चम्मच अदरक कटा हुआ
  • 4 कश्मीरी लाल सूखी मिर्च
  • ¼ कप गर्म पानी

० ग्रेवी के लिए सामग्री:

  • 6 बड़े चम्मच रिफाइंड तेल
  • एक तेज पत्ता
  • चार हरी इलायची
  • 4 एक बड़ी इलायची
  • एक चम्मच जीरा
  • एक कप बारिक कटा हुआ प्याज
  • 1 ¼ चम्मच नमक या स्वाद अनुसार
  • एक चम्मच लाल मिर्च पाउडर
  • एक चम्मच हल्दी पाउडर
  • एक चम्मच धनिया पाउडर
  • एक कप गर्म पानी
  • एक चम्मच गरम मसाला
  • एक बड़ा चम्मच सूखी मेथी की पत्तियां
  • दो बड़ी चम्मच काटा ताजा हरा धनिया

सोया चाप रेसिपी बनाने की विधि:

*सोया चाप को धीरे से स्टिक से हटा दीजिए, आप कांटे का उपयोग करके उन्हें आसानी से स्लाइड कर सकते हैं तो आपको गोल या अंडाकार टुकड़ों में काट लीजिए ।चाप को नमक अदरक -लहसुन पेस्ट, दही ,लाल मिर्च पाउडर और हल्दी पाउडर के साथ मैरिनेड करें। प्रत्येक टुकड़े को मैरीनेट मसाला के साथ मिलाएं। 30 मिनट से 1 घंटे के लिए अलग रख दें।

*तलने के लिए एक पैन में चार बड़े चम्मच तेल गर्म करें -तेल गर्म होने पर सोया चाप को दोनों तरफ से कुरकुरा और सुनहरा होने तक तल लें। तले हुए सोया चंक्स को एक कटोरी में निकाल लें और एक तरफ रख दें।https://foodwada.com

ताजा टमाटर, अदरक, लहसुन, कश्मीरी लाल मिर्च और गरम पानी को मिलाकर मुलायम पेस्ट बना लें।इसे एक तरफ रख दें।बचे हुए तेल को उसी भारी तले वाले पैन या कढ़ाई में गर्म करें।

*साबुत मसाले ( हरी इलायची,बड़ी इलायची, तेजपत्ता) डालें और उनकी सुगंध छोड़ने के लिए 40-50सेकंड तक भूनें।

*टमाटर का पेस्ट, हल्दी, लाल मिर्च पाउडर और धनियां पाउडर डालें, मसाले से तेल अलग होने तक धीमी आंच पर भूनिये।

*ग्रेवी, कसूरी मेथी और गरम मसाला बनाने के लिए 1 कप पानी डाल दीजिए,सोस के गाढ़ा होने तक करी को धीमी आंच पर उबलने दें।

*तली हुई सोया चाप डालें, मिलाएं और करी को फिर से ढककर 5 मिनट तक धीमी आंच पर पकाएं। यह कदम सुनिश्चित करता है कि चाप ग्रेवी का स्वाद सोख लें।

*ताजी धनिये की पत्तियों से सजाइये।

*पंजाबी सोया चाप मसाला को चपाती, चावल या लच्छा परांठे के साथ परोसें।

सोया चाप के फायदे और नुकसान:

नुकसानदायक:

  • यह स्वस्थ आहार का हिस्सा होता है खासकर की शाकाहारियों के लिए, क्योंकि यह पौधे- आधारित प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत है इसमें संतृप्त वसा कम है और यह कुछ मांस आधारित व्यंजनों का एक स्वास्थ्य वर्धक विकल्प हो सकता है।
  • . यूरिक एसिड को बढ़ावा
  • .खनिजों के अवशोषण को करें ब्लॉक
  • .टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम
  • .पुरुषों के स्तन को बढ़ावा


फायदेमंद:

  • इसको खाने से हमारी मसल्स मजबूत बनते हैं डाइजेशन में सुधार होता है और इसमें मौजूद अमीनो एसिड इम्यून सिस्टम को नई ताकत प्रदान करता है हमारी हड्डियों को ताकत मिलती है साथ ही अंतिम ऑक्साइड का प्रमुख सोर्स हैं ।
  • . कोलेस्ट्रोल का स्तर करे कम
  • . दिमाग के लिए फायदेमंद
  • . संतुलित वजन
  • .दांतों व हड्डियों के लिए बेहतर
  • . मधुमेह में फायदेमंद
  • .एनीमिया से बचाव
  • . प्रोटीन में उच्च

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »

Discover more from FOODWADA

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading